24 C
Mumbai
Sunday, January 23, 2022

Latest Articles

एक नेता जो पैदल चलते हुए मुख्यमंत्री बना - शिवराज सिंह चौहान 
१८३९ में महाराज रंजीत सिंह दुनिया से रूक्षत हुए और उत्तर पछिम भारत में सीखो का साम्राज्य सिकुड़ता चला गया ।  १८४५ में पहला एंग्लो-सिख युद्ध हुआ और अंग्रेज जित गए और १८४६ में लाहौर ट्रेटी पर दस्तखत हुए।  और कश्मीर अंग्रेजो के हिस्से में चला गया। ...
कनिष्क का इतिहास जीवनी : कनिष्क प्रथम को इतिहास में इनकी विजय, धार्मिक प्रवृत्ति, साहित्य तथा कला का प्रेमी के रूप में जाना जाता हैं. इनके जन्म और राज्याभिषेक वर्ष के सम्बंध में मतभेद हैं. शिव व कार्तिकेय के भक्त होने के साथ ही ये बौद्ध अनुयायी थे....
पुराणों के अनुसार सती के शव के विभिन्न अंगों से शक्तिपीठों का निर्माण हुआ था। इसके पीछे एक विशेष कथा है, बताते हैं कि दक्ष प्रजापति ने कनखल (हरिद्वार) में 'बृहस्पति सर्व' नामक यज्ञ रचाया। उस यज्ञ में ब्रह्मा, विष्णु, इंद्र और अन्य देवी-देवताओं को आमंत्रित किया...

About the author

Sushil Rawal - People without the knowledge of their past history, origin and culture is like a tree without roots.

Follow me

16,759FansLike
1,211FollowersFollow
7,692FollowersFollow

Weather

Mumbai
haze
24 ° C
24 °
24 °
60 %
5.1kmh
40 %
Sun
24 °
Mon
23 °
Tue
25 °
Wed
26 °
Thu
26 °

Popular articles

एक नेता जो पैदल चलते हुए मुख्यमंत्री बना – शिवराज सिंह चौहान 

एक नेता जो पैदल चलते हुए मुख्यमंत्री बना - शिवराज सिंह चौहान 

कहानी गिलगित बाल्टिस्तान के विवाद की – सुशिल रावल

१८३९ में महाराज रंजीत सिंह दुनिया से रूक्षत हुए और उत्तर पछिम भारत में सीखो का साम्राज्य सिकुड़ता चला गया ।  १८४५...

जानिए कनिष्क का इतिहास

कनिष्क का इतिहास जीवनी : कनिष्क प्रथम को इतिहास में इनकी विजय, धार्मिक प्रवृत्ति, साहित्य तथा कला का प्रेमी के रूप में जाना...

जानिए 51 शक्तिपीठ के बारे में

पुराणों के अनुसार सती के शव के विभिन्न अंगों से शक्तिपीठों का निर्माण हुआ था। इसके पीछे एक विशेष कथा है, बताते...

Recent Comments

Popular Categories